Miss You Shayari – Miss U Sms, Yaad Status in Hindi

Aaj ma aapke liya bahut c yaad shayari, Miss You Shayari, intizar shayari le ke aiya hu. yumid ha aapko ya Miss You Shayari bahut pashand aiya gi, to bina dari kiya yin shayario ka maza late ha…

Miss You Shayari

इंतज़ार है हमे आपके आने का, वो नज़रे मिला के नज़रे चुराने का, मत पूछ ए-सनम दिल का आलम क्या है, इंतज़ारा है बस तुझमे सिमट जाने का. 

Miss You Shayari

कब उनकी पलकों से इज़हार होगा; दिल के किसी कोने में हमारे लिए प्यार होगा; गुज़र रही है रात उनकी याद में; कभी तो उनको भी हमारा इंतज़ार होगा! 

आँखों मे आ जाते है आँसू, फिर भी लबो पे हसी रखनी पड़ती है, ये मोहब्बत भी क्या चीज़ है यारो, जिस से करते है उसीसे छुपानी पड़ती है 

रोती हुई आँखो मे इंतेज़ार होता है, ना चाहते हुए भी प्यार होता है, क्यू देखते है हम वो सपने, जिनके टूटने पर भी उनके सच होने का इंतेज़ार होता है? .. 

Intizar Shayari

इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है, खामोशियो की आदत हो गयी है, न सीकवा रहा न शिकायत किसी से, अगर है तो एक मोहब्बत, जो इन तन्हाइयों से हो गई है..! 

निकलते है तेरे आशिया के आगे से,सोचते है की तेरा दीदार हो जायेगा, खिड़की से तेरी सूरत न सही तेरा साया तो नजर आएगा 

sad Shayari

हमारे बिन अधूरे तुम रहोगे, कभी चाहा था किसी ने,तुम ये खुद कहोगे, न होगे हम तो किसी ने ,तुम ये खुद कहोगे, मिलेगे बहुत से लेकिन कोई हम सा पागल ना होगा. 

इंतेज़ार रहता है हर शाम तेरा, रातें काट ते है ले ले के नाम तेरा, मुद्दत से बैठी हू ये आस पाले, शायद अब आ जाए कोई पैगाम तेरा

किसी को मेरी याद आए एक अरसा हुआ, कोई है हैरान तो कोई तरसा हुआ. इस तरह खामोश हैं ये दिल ये आँखे मेरी, जैसे खामोश हो कोई बदल बरसा हुआ. 

इंतज़ार तो हम भी काइया करते हैं आपसे मिलने की आस काइया करते हैं मेरी याद हिचक़ियो की मोहताज़ नही हम तो आपको सांसो से याद करते हैं 

बहुत हो चुका इंतेज़ार उनका, अब और ज़ख़्म सहे जाते नही, क्या बयान करें उनके सितम को, दर्द उनके कहे जाते नही 

Miss You Shayari Sms

भले ही राह चलते का दामन थाम ले, मगर मेरे प्यार को भी तू पहचान ले, कितना इंतेज़ार किया है तेरे इश्क़ में, ज़रा यह दिल की बेताबी तू जान ले.. 

ज़िंदगी हसीन है ज़िंदगी से प्यार करो, है रात तो सुबह का इंतज़ार करो, वो पल भी आएगा जिसका इंतज़ार है आप को, रब पर भरोसा और वक़्त पे ऐतबार रखो.

Miss You Shayari

कौन कहता है इश्क़ मे बस इकरार होता है कौन कहता है इश्क़ मे बस इनकार होता है, तन्हाई को तुम बेबसी का नाम ना दो, क्यूंकी इश्क़ का दूसरा नाम ही इंतेज़ार होता है 

इस नज़र को तेरा इंतेज़ार रहता है दिल तुमसे मिलने को बेक़रार होता है तुम हमसे मिलो ना मिलो फिर भी इस दिल मैं तेरी दोस्ती का प्यार रहता है 

अपने जज़्बात दफ़न किए बैठे हैं. दिल के अरमान छुपाए बैठे हैं. थक गये हैं अपनी इस ज़िंदगी से. अब मौत का इंतेज़ार किए बैठे हैं. 

बदलना आता नही हमको मौसमो की तरह, हर एक रूप में तेरा इंतजार करते है, ना तुम समेत सकोगी जिसे क़यामत, कसम तुम्हारी तुम्हे इतना प्यार करते है. 

नज़र चाहती है दीदार करना, दिल चाहता है प्यार करना, क्या बतायें इस दिल का आलम, नसीब में लिखा है इंतेज़ार करना. 

Miss You Shayari In Hindi For Girlfriend

आप का एतिबार कौन करे रोज़ का इंतिज़ार कौन करे… 

किसे यक़ीन कि तुम देखने को आओगे अख़ीर वक़्त मगर इंतिज़ार और सही… 

तेरे आने की क्या उमीद मगर कैसे कह दूँ कि इंतिज़ार नहीं… 

थक गए हम करते करते इंतिज़ार,
इक क़यामत उन का आना हो गया… 

मैं लौटने के इरादे से जा रहा हूँ मगर सफ़र सफ़र है मेरा इंतिज़ार मत करना… 

yaad sms

है ख़ुशी इंतिज़ार की हर दम मैं ये क्यूँ पूछूँ कब मिलेंगे आप… 

यक़ीन चाँद पे सूरज में ए’तिबार भी रख मगर निगाह में थोड़ा सा इंतिज़ार भी रख 

मेरे पास क्या कुछ नहीं और एक मुस्तक़िल इंतिज़ार और आँसू 

बे-वजह इंतिज़ार दिखाने से फ़ाएदा कह दीजिए कि सामने आया न जाएगा 

है इंतिज़ार उसे भी तुम्हारी खुश्बू का हवा गली में बहुत देर से रुकी हुई है . 

हो चली ख़त्म इंतिज़ार में उम्र कोई आता नज़र नहीं आता 

होश ओ ख़िरद गँवा के तिरे इंतिज़ार में गुम कर दिया है ख़ुद को ग़मों के ग़ुबार में 

मे इंतेज़ार मे हूँ की कब टूटेगी तेरी खामोशी, तुम इंतेज़ार मे हो की नही देख मेरी खामोशी दर्द उठता है दिल मे सुरलहर की तरह मे किस तरह बयान करूँ रोतटी हुई खामोशी 

Miss You Shayari In Hindi For Boyfriend

कौन कहता है इश्क़ मे बस इकरार होता है, कौन कहता है इश्क़ मे बस इनकार होता है, तन्हाई को तुम बेबसी का नाम ना दो, क्यूंकी इश्क़ का दूसरा नाम ही इंतेज़ार होता है. 

जान से भी ज़्यादा उन्हे प्यार किया करते थे, याद उन्हे दिन रत किया करते थे, अब उन राहो से गुज़रा नही जाता, जहा बैठ कर उनका इंतेज़ार किया करते थे.! 

कत्मे अदम से उनका हमें इन्तिज़ार है ! लगता है हर दियार, उन्ही का दियार है !! हारे हैं बार-बार बुला कर तुम्हें, सनम ! अब आ भी जाइये, कि, जिगर बेक़रार है !! 

कौन है यहाँ जो अब मुझपे एतबार करता है मेरा अक्स मुझे पहचानने से इनकार करता है खंजर लिए हाथों में खड़ा है दर्द मेरा वो मेरे क़त्ल के लिए मेरा इंतेज़ार करता है 

एक शाम आती है तुम्हारी याद लेकर, एक शाम जाती है तुम्हारी याद देकर, पर मुझे तो उस शाम का इंतेज़ार है, जो आए तुम्हे साथ लेकर..!! 

इश्क़ किया तुझसे, मेरे ऐतबार की हद थी, इश्क़ में दे दी जान, मेरे प्यार की हद थी, मरने के बाद भी खुली थी आँखें, यह मेरे इंतेज़ार की हद थी 

तेरे इंतज़ार का ये आलम है, तड़प्ता है दिल आखें भी नम है, तेरी आरज़ू में जी रहे है, वरना जीने की ख्वाहिश कम है 

Tumhari Yaad Shayari

किसी के दीदार को तरसता है किसी के इंतेज़ार मे तडपता है ये दिल भी अजीब चीज़ है जो होता है खुद का मगर किसी और के लिए धड़कता है.

अब हमसे इंतेज़ार नही होता इतना महेंगा तो किसी का प्यार नही होता हम जिसके लिए हुए रुसवा ज़माने मे वो अब बात करने को भी तैयार नही होता 

tanhai sms

चाहत पर अब एतबार ना रहा, खुशी क्या है यह एहसास ना रहा, देखा है इन आँखोने टूटे सपनो को, इसलिए अब किसी का इंतेज़ार ना रहा 

कोई वादा नही फिर भी तेरा इंतेज़ार है जुदाई के बाद भी तुझसे प्यार है तेरे चेहरे की उदासी दे रही है गवाही मुझसे मिलने के लिए तू भी बेकरार है 

इंतज़ार हमारा करे कोई मंजिल हमारी बने कोई , दिल की यह आरजू है छोटी दिल में आके रहे कोई। 

तुम आये तो लगा हर खुशी आ गई यू लगा जैसे ज़िन्दगी आ गई था जिस घड़ी का मुझे कब से इंतज़ार अचानक वो मेरे करीब आ गई 

सुबह का इंतेज़ार था, फिर शाम तक मुझे रुकना था आएगी इस शाम भी मैने खुद को समझाया यही सुबह से लेकर शाम तक एक पल चैन पाया नही जिसका इंतेज़ार था, उस शाम वो आया नही 

नज़रें मेरी कहीं तक ना जायें, बेवफा तेरा इंतेज़ार करते करते, यह जान यूँ ही निकल ना जाए, तुम से इश्क़ का इज़हार करते करते 

फ़ासले मिटा कर आपस मैं प्यार रखना,. दोस्ती का ये रिश्ता हमेशा बरकरार रखना, बिछड़ जाए कभी आपसे हम, आँखों मैं हमेशा हमारा इंतज़ार रखना 

बहुत हो चुका इंतेज़ार उनका, अब और ज़ख़्म सहे जाते नही, क्या बयान करें उनके सितम को, दर्द उनके कहे जाते नही 

Miss U Shayari In Hindi For Friend

कुछ पल हमारे साथ रह के तुम्हे लौट जाना था हर बार, जाते हुए तुम्हारा मूड मूड के हमें देखना अच्छा लगा, सालों के बाद मिला तुमसे आज मगर बस कुछ लम्हो के लिए, उस इंतेज़ार के बाद तुमसे मिलना हमें बहुत अच्छा लगा. 

साँसों मे मेरे कुछ अजीब सी कशिश है आज जाना, शायद ये तुम्हारे साँसों को महसूस कर रहा है, आँखें मेरी तुम्हारी राहों पे आके थम गयी हैं, और ये दिल, तुम्हारे आने का इंतेज़ार कर रहा है. 

तन्हैइिओं मे उनको ही याद करते हैं वो सलामत रहे यही फरियाद करते है, हम उनके ही मोहब्बत का इंतेज़ार करते है उनको क्या पता हम उनसे कितना प्यार करते है.

Tumhari Yaad Sayri

आई मिलन की बेला है नही होता है अब इंतज़ार तेरी उलझी ज़ुल्फोन को ले आज दूं मैं संवार 

ज़िंदगी हसीन है इससे प्यार करो हर रात की नई सुबा का इंतजार करो वो पल भी आएगा, जिसका आपको इंतजार है बस अपने रब पर भरोसा और वक़्त पर ऐतबार करना 

आदत बदल दू कैसे तेरे इंतेज़ार की ये बात अब नही है मेरे इकतियार की देखा भी नही तुझ को फिर भी याद करते है बस ऐसी ही खुश्बू है दिल मे तेरे प्यार की
Miss You Shayari

याद करेंगे तो दिन से रात हो जायेगी,
आईने को देखिये हमसे बात हो जायेगी,
शिकवा न करिए हमसे मिलने का,
आँखे बंद कीजिये मुलाकात हो जायेगी।

Miss U Shayari

मुझे इतना न याद आओ कि खुद को तुम समझ बैठूं,
मुझे अहसास रहने दो मेरी अपनी भी हस्ती है।
तुझे याद करना न करना अब मेरे बस में कहाँ
दिल को आदत है हर धड़कन पे तेरा नाम लेने की।
जिससे चाहा था बिखरने से बचा ले मुझको,
कर गया तेज हवाओं के हवाले मुझ को,
मैं वो बुत हूँ कि तेरी याद मुझे पूजती है,
फिर भी डर है ये कहीं तोड़ न डाले मुझको।

कुछ नये सपने उसी के देखना है फिर मुझे,
सो गया हूँ मैं बहा कर जिसकी यादें आँख से।

अगर आँसू बहा लेने से यादें बह जाती,
तो एक ही दिन में हम तेरी याद मिटा देते।

याद आते हैं तो कुछ भी नहीं करने देते​,​
आप की यही बात बहुत बुरी लगती है।

किस जगह रख दूँ मैं तेरी याद के चराग़ को
कि रोशन भी रहूँ और हथेली भी ना जले।

Miss You Shayari

आज यह कैसी उदासी छाई है,
तन्हाई के बादल से भीगी जुदाई है,
टूट के रोया है फिर मेरा दिल,
जाने आज किसकी याद आई है।

Yaad Shayari

अब उदास होना भी अच्छा लगता है,
किसी का पास न होना भी अच्छा लगता है,
मैं दूर रह कर भी किसी की यादों में हूँ,
ये एहसास होना भी अच्छा लगता है।

अब बुझा दो ये सिसकते हुए यादों के चराग,
इनसे कब हिज्र की रातों में उजाला होगा।

वो अपनी जिंदगी में हो गए मसरूफ इतने,
किस किस को भूल गए अब उन्हें भी याद नहीं।

ढूढ़ोगे उजड़े रिश्तों में वफ़ा के खजाने,
तुम मेरे बाद मेरी मोहब्बत को याद करोगे।

कद्र हर शै की हुआ करती है खो जाने पर,
तुम उन्हें याद करोगे जो तुम्हें याद नहीं।

Missing Shayari

आती है ऐसे बिछड़े हुए दोस्तों की याद,
जैसे चराग जलते हों रातों को गांव में।

मौसम की पहली बारिश का शौक तुम्हें होगा,
हम तो रोज किसी की यादो मे भीगें रहते है।

बिछड़ी हुई राहों से जो गुजरे हम कभी,
हर कदम पर खोयी हुई एक याद मिल गयी।

गुस्ताख है तुम्हारी याद
लफ्ज़ लिखे तेरी याद में
तुम बेहिसाब याद आये
थोड़ी सी यादें हमारी
तेरी यादों का बाज़ार

कर रहा था ग़म-ए-जहाँ का हिसाब,
आज तुम याद आये तो बेहिसाब आये।

Miss You Shayari

कहेगा झूठ वो हमसे तुम्हारी याद आती है,
कोई है मुन्तजिर कितना ये लहजे बोल देते हैं।

बंद मुट्ठी से गिरती हुयी रेत की तरह,
भुला दिया तुमने तो ज़र्रा ज़र्रा कर के।

Intizar Shayari

हसरत नहीं, अरमान नहीं, आस नहीं है,
यादों के सिवा कुछ भी मेरे पास नहीं है।

जाते-जाते आप इतना काम कर देना मेरा,
याद का सारा सर-ओ-सामाँ जलाते जाइए।

वो सिलसिले वो शौक वो ग़ुरबत न रही,
फिर यूँ हुआ के दर्द में शिद्दत न रही,
अपनी जिंदगी में हो गए मसरूफ वो इतना,
कि हम को याद करने की फुर्सत न रही।

Miss You Shayari

यादों की कीमत वो क्या जाने,
जो किसी को यूँ ही भुला देते हैं,
यादों का मतलब तो उनसे पूछो जो,
यादों के सहारे जिया करते हैं।

प्यार की दास्तां जब भी वक्त दोहरायेगा,
हमें भी एक शख्स बहुत याद आयेगा,
जब उसके साथ बिताये लम्हें याद आयेंगे,
आँखें नम हो जाएँगी दिल आंसू बहायेगा।

वो सिलसिले वो शौक वो ग़ुरबत न रही,
फिर यूँ हुआ के दर्द में शिद्दत न रही,
अपनी जिंदगी में हो गए मसरूफ वो इतना,
कि हम को याद करने की फुर्सत न रही।

Yaad Shayari In Hindi

किसी कली ने भी देखा न आँख भर के मुझे,
गुजर गई जरस-ए-गुल उदास करके मुझे,
मैं सो रहा था किसी याद के शबिस्ताँ में,
जगा के छोड़ गए काफिले सहर के मुझे।

कर रहा था ग़म-ए-जहाँ का हिसाब,
आज तुम याद आये तो बेहिसाब आये।

कहेगा झूठ वो हमसे तुम्हारी याद आती है,
कोई है मुन्तजिर कितना ये लहजे बोल देते हैं।

तुम्हें सोचा तो हर सोच से खुशबू आई,
तुम्हें लिखा तो हर अल्फ़ाज महकता पाया।
कुछ दिन और लगेंगे ज़ख़्म-ए-दिल के भरने में,
जो अक्सर याद आते थे वो कम याद आते हैं।

सारी उम्र आँखों में एक सपना याद रहा,
सदियाँ बीत गयी पर वो लम्हा याद रहा,
ना जाने क्या बात थी उनमे और हम में,
सारी महफ़िल भूल गए बस वो चेहरा याद रहा।

Yaad Shayari

ये आरज़ू नहीं कि किसी को भुलाये हम,
तमन्ना नहीं है कि किसी को रुलाये हम,
बस जिसको जितना याद करते है,
उसे भी उतना ही याद आये हम।

एक तुम हो सनम कि कुछ कहते नहीं,
एक तुम्हारी यादें हैं जो चुप रहती नहीं।

मंजर भी बेनूर थे और फिजायें भी बेरंग थी,
तुम्हारी याद आई और मौसम सुहाना हो गया।

उसकी यादों को किसी कोने में छुपा नहीं सकता,
उसके चेहरे की मुस्कान कभी भुला नहीं सकता,
मेरा बस चलता तो उसकी हर याद को भूल जाता,
लेकिन इस टूटे दिल को मैं समझा नहीं सकता।

हर तरफ जीस्त की राहों में कड़ी धूप है,
बस तेरी याद के साए हैं पनाहों की तरह।

उसे यकीन था खुद पे कि भूल जायेगा मुझे,
हमें भी दिल पे भरोसा था और याद रक्खे हैं।

दो लफ्ज़ क्या लिखे तेरी ‪याद‬ में हमने,
लोग कहने लगे तू आशिक‬ बहुत पुराना है।

कुछ खूबसूरत पलों की महक सी हैं तेरी यादें,
सुकून ये भी है कि ये कभी मुरझाती नहीं।

Missing Shayari In Hindi

वो नहीं आती पर निशानी भेज देती है,
ख्वाबो में दास्ताँ पुरानी भेज देती है,
कितने मीठे हैं उसकी यादो के मंज़र,
मेरी आँखों में नमकीन पानी भेज देती है।

अपनी यादों की खुशबू भी
हम से छीन लोगे क्या?
किताब-ए-दिल में अब ये
सूखा गुलाब तो रहने दो।

बेताब से रहते हैं तेरी याद में अक्सर,
रात भर नहीं सोते हैं तेरी याद में अक्सर,
जिस्म में दर्द का बहाना सा बना कर,
हम टूट कर रोते हैं तेरी याद में अक्सर।

आज हँसी देकर कल रुला न देना,
इतना याद करके फिर भुला न देना,
अपने इस प्यारे रिश्ते को याद रखना,
इन्हें गैरों की तरह भुला न देना।

ये रस्म-ए-उल्फ़त इजाज़त नहीं देती वरना,
हम तुम्हे ऐसे भूलेंगे कि तुम सदा रखोगे।

मुझसे वादा करो मुझे रुलाओगे नहीं,
हालात जो भी हो मुझे भुलाओगे नहीं,
छुपा के अपनी आँखों में रखोगे मुझे,
दुनिया में किसी और को दिखाओगे नहीं,
मेरे लफ़्ज मेरे दिल की तहरीरें हैं,
कसम उठाओ इन को कभी जलाओगे नहीं,
मुझे ये यकीन दिलाओ कि मुझे याद रखोगे,
मेरी यादों को अपने दिल से मिटाओगे नहीं।

रख दी कायनात खुदा ने हमारे क़दमों में,
मगर हमने तुम्हारी यादों का सौदा नहीं किया।

महक रही है जिंदगी आज भी जिसकी खुशबू से,
वो कौन था जो यूँ गुजर गया मेरी यादों से।

यह माना के हम से वो खफा रहे होंगे,
हो सकता है वो हमें आजमा रहे होंगे,
हम उतनी ही शिद्दत से याद करेंगे उन्हें,
जितनी शिद्दत से वो हमें भुला रहे होंगे।

Yaad Shayari

रात गुमसुम हैं और चाँद खामोश है,
तेरी यादों ने कर दिया मुझे मदहोश है,
कैसे कह दूँ आज मैं होश में हूँ…
जब हाथ में जाम है और पीने का होश नहीं।

दुनिया के ज़ोर प्यार के दिन याद आ गये,
दो बाज़ुओ की हार के दिन याद आ गये,
गुज़रे वो जिस तरफ से फिजायें महक उठी,
सबको भरी बहार के दिन याद आ गये।

वो दिन दिन नहीं वो रात रात नहीं,
वो पल पल नहीं जिस पल आपकी बात नहीं,
आपकी यादों से मौत हमें अलग कर सके,
मौत की भी इतनी औकात नहीं।

ज़माने के सवालों को मैं हँस के टाल दूं फ़राज़,
लेकिन नमी आँखों की कहती है मुझे तुम याद आते हो।

हसीं यादों के कुछ मौसम उसे अरसाल करने है फ़राज़,
सुना है शब को तन्हाई उसे सोने नहीं देती।

आज हम हैं कल हमारी यादें होंगी,
जब हम ना होंगे तब हमारी बातें होंगी,
कभी पलटोगे ज़िन्दगी के यह पन्ने,
तब शायद…
आपकी आँखों से भी बरसातें होंगी।

जिन्हें हम भूलना चाहें वो अक्सर याद आते हैं,
बुरा हो इस मोहब्बत का वो क्यूँ कर याद आते हैं।
भुलाये किस तरह उनको कभी पी थी उन आँखों से,
छलक जाते हैं जब आँसू वो सागर याद आते हैं।
किसी सुर्ख लब के चमक सी दिये की लौ मचलती थी,
जहाँ की थी कभी पूजा वो मन्दिर आज याद आते हैं।
रहे ऐ शमा तू रोश़न दुआ देता है ये परवाना,
जिन्हें किस्मत में जलना है वो जल कर याद आते हैं।

Intizar Shayari

बहुत अजब होती हैं
यादें यह मोहब्बत की,
रोये थे जिन पलों में
याद कर उन्हें हँसी आती है,
और हँसे थे जिन पलों में
अब याद कर उन्हें रोना आता है।

मुझे नींद की इजाज़त भी
उनकी यादों से लेनी पड़ती है,
जो खुद आराम से सोये हैं
मुझे करबटों में छोड़ कर।

सरहदें तोड़ के आ जाती है
किसी पंछी की तरह,
यह तेरी याद है जो बंटती नहीं
मुल्कों की तरह।

अभी तक दिल में रोशन हैं
तुम्हारी याद के जुगनू
अभी इस राख में चिंगारियां
आराम करती हैं।

लफ्ज़, अल्फाज़, कागज़ और किताब, 
कहाँ कहाँ नहीं रखता मैं तेरी यादों का हिसाब

See Also:-

Agar ya Miss You Shayari pashand aiye ho to please like kare share kare aapne Facebook, Whatsaap aur social account par. Thanks for visiting my website.